Gems Stone

मूंगा गणेश धारण करने से मिलेंगे सुख, समृद्धि

भगवान गणेश सिद्धि, बुद्धि के दाता हैं और मंगल ग्रह संपत्ति, कर्ज मुक्ति, सौभाग्य, समृद्धि प्रदान करने वाला ग्रह है। यदि इन दोनों का साथ मिले तो व्यक्ति अपने जीवन में नई उंचाइयां प्राप्त कर सकता है। उसके किसी भी कार्य में बाधा नहीं आती और यदि वह व्यक्ति कर्ज में डूबा हुआ है तो शीघ्र ही कर्ज मुक्त हो जाता है।

ज्योतिष शास्त्र में वैसे तो समृद्धि प्राप्त करने के लिए अनेकों देवी-देवताओं की पूजा, मंत्र जाप, यंत्र सिद्धि बताई गई है, लेकिन इन सबमें समय अधिक लगता है। देवी देवताओं की पूजा भी तभी फलीभूत होती है, जब उसे पूर्ण विधि-विधान से दोषरहित तरीके से किया जाए। मंत्र जाप बिना गुरु की कृपा के सिद्ध नहीं होता और यंत्र पूजा में शुद्धता, शुचिता होना आवश्यक है।

Read Now:- अनिष्ट ग्रहों की शान्ति के लिए उपयोगी रत्न

व्यक्ति की आर्थिक तरक्की

सुख, समृद्धि और शांति के लिए आज मैं एक ऐसा उपाय बता रहा हूं जिसे करने से न सिर्फ व्यक्ति की आर्थिक तरक्की तेजी से होने लगती है, बल्कि जीवन में उसके समस्त कार्यों की बाधा समाप्त हो जाती है। वह अतुलनीय धन संचय करने में कामयाब होता है। व्यापारिक उन्नति, नौकरी में प्रमोशन, निरोगी शरीर और कई संपत्तियों का मालिक बनता है। यह उपाय है मूंगा गणेश।

 

भगवान गणेश और मंगल ग्रह का प रत्न लाल मूंगा का तालमेल सुख के बंद दरवाजों को खोलने में चमत्कारिक रूप से असर दिखाता है। मूंगा गणेश धारण करने के लिए जन्म कुंडली में मंगल की स्थिति देखने की भी आवश्यकता नहीं। यह अपने आप में शुभता का प्रतीक है। यदि किसी व्यक्ति के जीवन में लगातार मानसिक परेशानियां आ रही हों, लाख प्रयासों के बाद भी तरक्की नहीं हो रही, आर्थिक हानि हो रही हो और धन संचय नहीं हो पा रहा है, तो उस व्यक्ति को मूंगा के गणेश धारण करना चाहिए। यहां मैं मूंगा गणेश के कुछ प्रयोग बता रहा हूं, जिन्हें अपनाकर आप भी अपने जीवन में समृद्धि ला सकते हैं:

मूंगा गणेश के लाभ

1. यदि आपकी कमाई तो बहुत है, लेकिन धन का संचय नहीं हो पा रहा है तो मूंगा गणेश आपके धन को बचाने में मदद करता है।

2. संपत्ति खींचने में मूंगा गणेश चमत्कारिक असर दिखाता है। यदि आप भूमि, भवन, खरीदना चाहते हैं तो मूंगा गणेश धारण करें।

3. शेयर मार्केट, कमोडिटी या अन्य प्रकार के निवेश से लाभ कमाना चाहते हैं तो मूंगा गणेश का प्रयोग किया जा सकता है।

4. जन्म कुंडली में मंगल यदि नीच या पाप ग्रहों से युक्त हो तो मूंगा गणेश पहनने से मंगल के बुरे प्रभाव नष्ट होते हैं।

5. मूंगा के गणेश साहस, बल और नेतृत्व करने की क्षमता प्रदान करते हैं। लीडरशिप करना चाहते हैं तो इसे जरूर धारण करें।

6. शत्रु परेशान कर रहे हों, मुकदमे में जीत हासिल करना चाहते हैं तो मूंगा के गणेश इन सब संकटों से बचाते हैं।

7. हमेशा आलस्य छाया रहता हो, काम में मन नहीं लगता हो मानसिक रूप से तनाव महसूस करते हैं तो मूंगा गणेश धारण करें।

8. मूंगा सबसे अच्छा रक्त शोधक है। यदि आपकी त्वचा खराब है, पिगमेंट की समस्या है, मुहांसे हो रहे हैं तो उसमें मूंगा तुरंत लाभ मिलता है।

मस्तिष्क को नियंत्रण

9. यदि आपमें धैर्य की कमी है, बात-बात पर गुस्सा आ जाता है तो मूंगा धारण करें यह मस्तिष्क को नियंत्रण में रखता है।

10. जन्म कुंडली में मंगल दोष है या मंगल से संबंधित कोई अन्य दूषित योग बन रहा है तो मूंगा गणेश इनमें राहत प्रदान करता है।

कैसे उपयोग में लाएं

मूंगा गणेश का पेंडेंट मंगलवार के दिन धारण करें। किसी भी शुक्ल पक्ष के मंगलवार को प्रातः स्नानादि से निवृत होकर अपने पूजा स्थान में शुद्ध आसन पर बैठ जाएं। मूंगा गणेश को एक तांबे के पात्र में रखकर गंगाजल से अच्छी तरह साफ करें।

मूंगा गणेश का प्रभाव

इसके बाद गणेश मंत्र ।। ओम गं गणपतये नमः ।। की एक माला जाप करें। इसके बाद यदि पेंडेंट है तो इसे गले में लाल धागे या चांदी की चेन में धारण कर लें। यदि पेंडेंट नहीं है तो इसे अपनी घर की तिजोरी या दुकान, व्यापारिक प्रतिष्ठान में गल्ले में रखें या जहां आप नगदी, पैसा रखते हैं वहां रखें। इसके बाद सुगंधित धूप आदि से इसकी पूजा करते रहें। जल्द ही आप मूंगा गणेश का प्रभाव महसूस करेंगे

Get Love Marriage Solution at Kundli Specialist

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *