आस्था और अन्धविश्वास

जानिए नींबू कैसे बचाएगा आपको नजरदोष से?

जानिए नींबू कैसे बचाएगा आपको नजरदोष से?

नींबू एक औषधीय फल है, जिसका प्रयोग अधिकतर लोग अपने भोजन को रूचिकर बनाने में करते है। नींबू न सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ाता है, बल्कि अम्लीय होने के कारण यह लीवर को मजबूत करता है

धार्मिक कार्यो के रूप में प्रायः नींबू का प्रयोग नजर दोष, बाहरी हवा एंव किसी के द्वारा टोने-टोटके से बचाने के लिए भी किया जाता है।

आइये जानते है नींबू का विभिन्न प्रकार से प्रयोग करके नकारात्मक शक्तियों से कैसे बचा जाये ?

घर में से नकारात्मक उर्जा को दूर करने के लिये-

अगर पति-पत्नी के रिश्तों में ज्यादा खटपट बनी रहती है तो अपने बेडरूम में एक बड़े बर्तन में पानी भरें और उसमें एक साबूत नींबू के दो भाग करके उसी में डाल दें। यह जल हर दूसरे दिन बदलकर उसमें नया नींबू काटकर डाल दें। यह उपाय कम से कम 40 दिन तक करना होगा।

जब कभी किसी छोटे बच्चों को नजर लग जाती है तो, वह दूध उलटने लगता है और दूध पीना बन्द कर देता है, ऐसे में परिवार के लोग चिन्तित और परेशान हो जाते है। ऐसी स्थिति में एक बेदाग नींबू लें और उसको बीच में आधा काट दें तथा कटे वाले भाग में थोड़े काले तिल के कुछ दाने दबा दें। और फिर उपर से काला धागा लपेट दें। अब उसी नींबू को बालक पर उल्टी तरफ से 7 बार उतारें। इसके पश्चात उसी नींबू को घर से दूर किसी निर्जन स्थान पर फेंक दें। इस उपाय से शीघ्र ही लाभ मिलेगा।

यदि एक स्वस्थ्य व्यक्ति अचानक अस्वस्थ्य हो जायें और उस पर चिकित्सा का प्रभाव नहीं हो रहा है तो समझना चाहिए कि उक्त व्यक्ति नजरदोष से ग्रसित है। ऐसी स्थिति में एक साबूत नींबू के उपर काली स्याही से 307 लिख दें और उस व्यक्ति के उपर उल्टी तरफ से 7 बार उतारें। इसके पश्चात उसी नींबू को चार भागों में इस प्रकार से काटें कि वह नीचें से जुड़े रहें। और फिर उसी नींबू को घर से बाहर किसी निर्जन स्थान पा फेंक दें। यह उपाय करने से पीडि़त व्यक्ति शीघ्र ही स्वस्थ्य हो जायेगा।

मोटापा दूर करने के लिए- प्रातःकाल खाली पेट 250 मि0ली0 हल्के गर्म जल में एक नींबू का रस व दो चम्मच शहद मिलाकर नित्य सेंवन करने से लाभ मिलेगा।

यदि किसी मनुष्य को रात में अक्सर डारवने सपने आते है, जिसके कारण वह डर जाता और ठीक से नींद नहीं आती है। ऐसी स्थिति में उस व्यक्ति की तकिये के नीचे एक हरा नींबू रख दें, और सूख जाने पर वह नींबू हटाकर दूसरा हरा नींबू रख दें। यह क्रिया लगातार 5 बार करने से दुःस्वपन आना बन्द हो जायेंगे और ठीक से नींद भी आने लगेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *